घनाभ के कितने किनारे होते हैं?

By Raj Vimal|Updated : August 31st, 2022

घनाभ एक तीन आयामी आकार है, जिसे बहुफलक भी कहा जाता है। आसान भाषा में घनाभ के फलक कोई भी चतुर्भुज कहे जा सकते हैं। घनाभ के कुल 12 किनारे होते हैं। घनाभ की लम्बाई, चौड़ाई से अधिक होती है, और उँचाई, चौड़ाई से कम होती है। घनाभ का उदाहरण माचिस की डब्बी, विद्यालय में ब्लैकबोर्ड आदि।

  • घनाभ का क्षेत्रफल= 2(लम्बाई x चौड़ाई + चौड़ाई x ऊंचाई + ऊंचाई x लम्बाई) 
  • घनाभ का विकर्ण = (√लम्बाई2 + चौड़ाई2 + ऊंचाई2)
  • घनाभ का आयतन = (लम्बाई x चौड़ाई x ऊंचाई) मीटर3

घन और घनाभ में अंतर

घन

घनाभ

घन का उदाहरण लूडो के पासे आदि हैं

घनाभ का उदाहरण किताबें, माचिस का डिब्बा आदि हैं

घन में लम्बाई, चौड़ाई और ऊंचाई समान होती है 

घनाभ में लम्बाई, चौड़ाई और ऊंचाई असमान होती है।

घन के सभी साइड का आकार वर्ग होता है।

घनाभ के सभी फलक आयताकार होते हैं।

Summary 

घनाभ के कितने किनारे होते हैं?

घनाभ के कुल 12 किनारे होते हैं। घनाभ एक तीन आयामी आकार होता है, जिस आकार के कई वस्तु हम अपने आसपास देखते हैं। यह दिखने में आयताकार होता है।

Comments

write a comment

Follow us for latest updates