राष्ट्रीय पोषण सप्ताह 2022: 1 से 7 सितंबर

By Trupti Thool|Updated : September 5th, 2022

राष्ट्रीय पोषण सप्ताह 2022: भारत में हर साल सितंबर के पहले सप्ताह को राष्ट्रीय पोषण सप्ताह के रूप में मनाया जाता है। यह सप्ताह हर साल 1 से 7 सितंबर तक मनाया जाता है। सप्ताह का उद्देश्य स्वस्थ जीवन शैली को बनाए रखने में स्वस्थ खाने की आदतों और उचित पोषण के महत्व के बारे में आम जनता के बीच जागरूकता लाना है। सरकार ने इस पूरे सप्ताह पोषण जागरूकता बढ़ाने के लिए कार्यक्रम शुरू किया है। इस लेख में हम राष्ट्रीय पोषण सप्ताह 2022 विषय के बारे में पूरी जानकारी साझा कर रहे हैं।

राष्ट्रीय पोषण सप्ताह 2022

प्रत्येक वर्ष राष्ट्रीय पोषण सप्ताह मनाने का उद्देश्य स्वस्थ जीवन शैली को बनाए रखने में स्वस्थ खाने की आदतों और उचित पोषण के महत्व के बारे में आम जनता के बीच जागरूकता पैदा करना है। इसके लिए संतुलित आहार और सक्रिय, स्वस्थ जीवन शैली की आवश्यकता होती है। सरकार द्वारा सितम्बर के इस पूरे सप्ताह पोषण जागरूकता बढ़ाने के लिए कार्यक्रम शुरू किया है।

राष्ट्रीय पोषण सप्ताह 2022 की थीम

भारत सरकार द्वारा प्रत्येक वर्ष राष्ट्रीय पोषण सप्ताह की थीम की घोषणा की जाती है। वर्ष 2021 में, भारत पोषण सप्ताह का विषय था-फीडिंग स्मार्ट राइट फ्रॉम स्टार्ट जबकि राष्ट्रीय पोषण सप्ताह 2022 की थीम 'सेलिब्रेट ए वर्ल्ड ऑफ फ्लेवर्स' है।

राष्ट्रीय पोषण सप्ताह के पिछले वर्षों के विषय नीचे दिए गए हैं:

  • 2022 National Nutrition Week Theme: Celebrate a World of Flavors
  • 2021 National Nutrition Week Theme: Feeding smart right from start". 
  • 2020 National Nutrition Week Theme: Eat Right, Bite by Bite.' 
  • 2018 National Nutrition Week Theme: Go Further with Food 
  • 2018 National Nutrition Week Theme: Optimal Infant & Young Child Feeding Practices: Better Child Health.

राष्ट्रीय पोषण सप्ताह 2022 का महत्व

राष्ट्रीय पोषण सप्ताह लोगों को स्वस्थ और पौष्टिक भोजन के बारे में शिक्षित और जागरूक करने के लिए मनाया जाता है। राष्ट्रीय पोषण सप्ताह के बारे में लोगों को शिक्षित करने के लिए भारत सरकार के महिला और बाल विकास मंत्रालय के खाद्य और पोषण बोर्ड द्वारा राष्ट्रीय पोषण सप्ताह का एक वार्षिक उत्सव मनाया जाता है। इस राष्ट्रीय पोषण सप्ताह के माध्यम से मानव के स्वस्थ आहार के महत्व और भूमिका पर जोर दिया जाता है। गौरतलब है कि स्वस्थ विकास और कार्य के लिए आवश्यक पोषक तत्वों से भरा संतुलित आहार होना आवश्यक है। भारत सरकार द्वारा संतुलित पोषण, पौष्टिक भोजन और स्वस्थ जीवन शैली पर ध्यान केंद्रित करते हुए अनेक कार्यक्रम भी प्रारम्भ किए हैं।

राष्ट्रीय पोषण सप्ताह का इतिहास

राष्ट्रीय पोषण सप्ताह की स्थापना वर्ष 1975 में अमेरिकन डायटेटिक एसोसिएशन (एडीए) के सदस्यों द्वारा की गई थी, जिसे अब एकेडमी ऑफ न्यूट्रिशन एंड डायटेटिक्स के नाम से जाना जाता है। अच्छे पोषण के महत्व और सक्रिय जीवन शैली की आवश्यकता के बारे में आम जनता में जागरूकता पैदा करने के लिए राष्ट्रीय पोषण सप्ताह की शुरुआत की गई थी। वहीं वर्ष 1980 में, राष्ट्रीय पोषण सप्ताह के प्रति जनता की सकारात्मक प्रतिक्रिया के कारण, इस सप्ताह के उत्सव को पूरे एक महीने के लिए बढ़ा दिया गया था।

भारत में पहली बार राष्ट्रीय पोषण सप्ताह वर्ष 1982 में मनाया गया था। इसी समय से राष्ट्रीय सरकार ने जनसंख्या को सूचित करने और उन्हें एक लंबा तथा स्वस्थ जीवन जीने हेतु प्रेरित करने के लिए एक अभियान शुरू किया था।

Comments

write a comment

UPPSC

UP StateUPPSC PCSVDOLower PCSPoliceLekhpalBEOUPSSSC PETForest GuardRO AROJudicial ServicesAllahabad HC RO ARO RecruitmentOther Exams

Follow us for latest updates