विद्युत धारा कितने प्रकार के होते हैं?

By Raj Vimal|Updated : August 31st, 2022

किसी विद्युत् परिपथ में इलेक्ट्रान का प्रवाह को विद्युत् धारा कहते हैं। विद्युत् धारा के दो प्रकार होते हैं। पहला ए सी (प्रत्यावर्ती धारा) दूसरा डी सी (दिष्ट धारा)। यहाँ आसान भाषा में AC को अंग्रेजी में Alternate Current और DC को अंग्रेजी में Direct Current कहते हैं। विद्युत् का SI मात्रक एम्पीयर है।

विद्युत धारा के प्रकार

एक कूलांम प्रति सेकेण्ड की दर से प्रवाहित होने वाले विद्युत आवेश को एक एम्पीयर विद्युत धारा कहते हैं। विद्युत धारा एक अदिश राशि है, जिसमे दिशा निश्चित नहीं होता है। यहाँ ध्यान देने योग्य बात यह है कि विद्युत् धारा को मापने के लिए आमीटर का इस्तेमाल किया जाता है।

1. प्रत्यावर्ती धारा किसे कहते हैं?

प्रत्यावर्ती धारा उस धारा को कहते हैं जिसका दिशा और मान परिवर्तित धारा कहलाती है। इसका स्रोत - जेनरेटर आदि है।

2. दिष्ट धारा किसे कहते हैं?

वह धारा जिसके दिशा और मान परिवर्तित नहीं होता, वह दिष्ट धारा कहलाती है। उदाहरण के लिए - सेल, बैटरी, dc जेनरेटर आदि।

Summary

विद्युत धारा कितने प्रकार के होते हैं?

प्रत्यावर्ती धारा और दिष्ट धारा विद्युत धारा के दो प्रकार होते हैं। अलग अलग यंत्रों को उनके अनुसार विद्युत् प्रवाह का होना आवश्यक है। कई बार विद्युत् धारा के प्रवाह को बदलने के लिए इन्वर्टर का इस्तेमाल किया जाता है।

Comments

write a comment

Follow us for latest updates