UPSC CSAT Syllabus in Hindi - Download PDF

By Shubhra Anand Jain|Updated : July 27th, 2022

UPSC का पाठ्यक्रम आधिकारिक तौर पर IAS अधिसूचना के साथ जारी किया जाता है, इसमें सीसैट का पाठ्यक्रम भी समाहित होता है। सीसैट को 2011 में UPSC प्रारंभिक परीक्षा के एक प्रश्न -पत्र के रूप में सम्मिलित किया गया था। IAS प्रारंभिक परीक्षा में दो पेपर होते है, एक सामान्य अध्ययन पेपर 1 (GS पेपर 1) और दूसरा CSAT (GS पेपर 2) । CSAT का मतलब Civil Services Aptitude Test है। UPSC CSAT पाठ्यक्रम को अभ्यर्थी की योग्यता और विश्लेषणात्मक कौशल का मूल्यांकन करने के लिए बनाया गया है। UPSC प्रारंभिक परीक्षा में CSAT पाठ्यक्रम से कुल 200 अंकों के प्रश्न पूछे जाते हैं। UPSC CSAT पेपर 2 एक क्वालिफाइंग पेपर है, इस पेपर को क्वालिफाई करने के लिए अभ्यर्थी को कम से कम 33% स्कोर की आवश्यकता होती है।

भले ही यह पेपर क्वालिफाइंग प्रकृति का है, अभ्यर्थियों को अच्छे अंक प्राप्त करके इस पेपर मे सफल होने के लिए UPSC CSAT पाठ्यक्रम की गहन समझ होनी चाहिए। UPSC CSAT पाठ्यक्रम 2022 की पूरी समझ विकसित करें और नीचे दिए गए लिंक का उपयोग करके PDF डाउनलोड करें।

Table of Content

UPSC CSAT पाठ्यक्रम 

UPSC CSAT पाठ्यक्रम को UPSC 2022 अधिसूचना के साथ जारी किया गया था। IAS परीक्षा का आरंभ प्रारंभिक परीक्षा से होता है, जो वर्ष 2023 के लिए मई माह मे निर्धारित हैं। आप लोग इस पाठ्यक्रम को डाउनलोड कर अपनी तैयारी प्रारंभ कर सकते हैं। UPSC पेपर 2 पाठ्यक्रम में निम्नलिखित विषय सम्मिलित हैं:

  1. बोधगम्यता
  2. संचार कौशल सहित अंतर्वैयक्तिक कौशल
  3. तार्किक कौशल एवं विश्लेषणात्मक क्षमता
  4. निर्णयन और समस्या समाधान
  5. सामान्य मानसिक योग्यता
  6. आधारभूत संख्यनन (संख्याएं और उनके संबंध, विस्तार क्रम आदि) (दसवीं कक्षा का स्तर), आंकड़ों का निर्वचन (चार्ट, ग्राफ, तालिका, आंकड़ों की पर्याप्तता आदि - दसवीं कक्षा का स्तर)

UPSC प्रीलिम्स परीक्षा के पाठ्यक्रम में GS पेपर 1 और CSAT पेपर 2 शामिल हैं। UPSC की अधिसूचना में विस्तृत पाठ्यक्रम उल्लिखित होता हैं, जिसमें प्रारंभिक परीक्षा का पाठ्यक्रम व मुख्य परीक्षा का पाठ्यक्रम पृथक रूप से होता है। इसी अधिसूचना में सभी वैकल्पिक विषयों की सूची व उनका पाठ्यक्रम भी वर्णित होता हैं। तैयारी कर रहे अभ्यर्थियों को UPSC मेन्स पाठ्यक्रम को भी पढ़ना चाहिए और उसी के अनुसार तैयारी की योजना बनानी चाहिए।

UPSC CSAT पाठ्यक्रम की PDF डाउनलोड करें

परीक्षा की तैयारी सुनियोजित और विस्तृत रूप से चल रही है यह सुनिश्चित करने के लिए अभ्यर्थियों को पूरा UPSC CSAT पाठ्यक्रम डाउनलोड करना चाहिए।

अभ्यर्थी UPSC की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर पाठ्यक्रम डाउनलोड कर सकते हैं या इस प्रक्रिया को सरल बनाने के लिए नीचे दिए गए CSAT पाठ्यक्रम पीडीएफ के सीधे डाउनलोड लिंक का उपयोग कर सकते हैं।

UPSC CSAT गणित पाठ्यक्रम 

UPSC CSAT गणित पाठ्यक्रम को कवर करते समय IAS अभ्यर्थियों को परेशानी का सामना करना पड़ता है, और यह वर्षों से चली आ रही समस्या है। हालांकि, अभ्यर्थियों हेतु चीजों को आसान बनाने के लिए, हमने   UPSC Question Papers का विश्लेषण करके महत्वपूर्ण विषयों की एक सूची बनाई है। यदि आप नीचे दिए गए इन विषयों को कवर करते हैं तो आप अपने अधिकांश UPSC CSAT पाठ्यक्रम को कवर कर सकते हैं।

CSAT गणित पाठ्यक्रम 

UPSC CSAT Maths Syllabus in Hindi

मूल संख्या

संख्या प्रणाली, L.C.M और H.C.F, परिमेय संख्याएँ और क्रम, दशमलव भिन्न, सरलीकरण, वर्गमूल और घनमूल, सूर्ड (करणी) और सूचकांक, अनुपात और सममिती, प्रतिशत, औसत, सेट सिद्धांत, विभाज्यता नियम, शेष प्रमेय

सामान्य मानसिक क्षमता

साझेदारी, लाभ और हानि, समय और दूरी, ट्रेन, समय और काम, काम और मजदूरी, नाव और धाराएं, पाइप और सिस्टर्न, साधारण ब्याज और चक्रवृद्धि ब्याज, आरोप और मिश्रण, क्षेत्रमिति और क्षेत्र, क्रमपरिवर्तन और संयोजन, संभाव्यता, ज्यामिति

CSAT तार्किक योग्यता पाठ्यक्रम

CSAT तार्किक योग्यता पाठ्यक्रम को UPSC द्वारा अलग से परिभाषित नहीं किया गया है। हालाँकि, पिछले वर्ष के प्रश्नपत्रों के अनुसार, हम UPSC CSAT पाठ्यक्रम को तार्किक योग्यता के लिए दो भागों में विभाजित कर सकते हैं। 

CSAT तार्किक योग्यता पाठ्यक्रम

विषय/टॉपिक

तार्किक कौशल और विश्लेषणात्मक क्षमता (LR & AA)

समानता, वर्गीकरण, श्रृंखला, कोडिंग-डिकोडिंग, रक्त संबंध, दिशा ज्ञान परीक्षण, तार्किक वेन आरेख, वर्णमाला परीक्षण, बैठने की व्यवस्था, गणितीय संचालन

डेटा विवेचन और डेटा पर्याप्तता (DI & DS)

टेबल चार्ट, पाई चार्ट, बार चार्ट, अंकगणितीय तर्क, लापता वर्ण सम्मिलित करना, एलिजिबिलिटी टेस्ट, संख्या, रैंकिंग और समय अनुक्रम टेस्ट, घड़ी, कैलेंडर, आयु के प्रश्न, क्यूब्स और पासा, कथन और तर्क, कथन और मान्यताएँ, कथन और कार्य की प्रक्रिया, कथन और निष्कर्ष, निष्कर्ष निकालना, अभिकथन और कारण, पंच लाइनें, स्थिति प्रतिक्रिया परीक्षण, कारण और प्रभाव, विश्लेषणात्मक तर्क, गणितीय पहेली और पैटर्न

UPSC CSAT पाठ्यक्रम कैसे तैयार करें?

एक प्रभावी तैयारी रणनीति के साथ पूरे UPSC CSAT पाठ्यक्रम को कवर करना आसान है। UPSC प्रीलिम्स में अपना चयन सुनिश्चित करने के लिए अभ्यर्थियों को CSAT में 33% से अधिक अंक प्राप्त करना आवश्यक है।

अंग्रेजी और निर्णयन

  • UPSC CSAT पाठ्यक्रम के इस खंड में अच्छा स्कोर करने के लिए, आपको अपना व्याकरण अच्छा करने के लिए मूलभूत अंग्रेजी पुस्तकों को पढ़ना होगा।
  • अपने शब्दकोष को सुधारे ताकि आपको परिच्छेद पढ़ने में समस्या का सामना न करना पड़े।
  • दैनिक समाचारपत्र पढे, और आपके पास समय है तो आप अपनी समझने का कौशल बढाने के लिए सरल कथाएं भी पढ सकते है।

गणित और तार्किक योग्यता 

  • CSAT गणित पाठ्यक्रम में संख्याएं और उनके संबंध, परिमाण के क्रम आदि जैसे विषय शामिल हैं। ये विषय दसवी कक्षा के स्तर के है, इसलिए सुनिश्चित करें कि आप पिछले वर्ष के प्रश्नपत्रों पर नज़र डालें और इन विषयों को कवर करें।
  • CSAT तार्किक योग्यता पाठ्यक्रम से प्रत्येक विषय की बुनियादी समझ विकसित करें। इन विषयों में अच्छे अंक प्राप्त करने के लिए अभ्यर्थियों को यथासंभव अभ्यास करने की आवश्यकता है।

तैयारी से पहले अपने स्तर को जानें

UPSC CSAT पाठ्यक्रम को कवर करने से पहले, आपको अपनी ताकत और कमजोरियों को जानना होगा। अपने कमजोर विषय का विश्लेषण करने के लिए आप पिछले वर्ष के प्रश्नों को हल कर सकते हैं और UPSC मॉक टेस्ट भी दे सकते हैं। अपने कमजोर विषयो को अधिक समय दें और बुनियादी बातों की ठोस समझ बनाएं।

मॉक टेस्ट हल करें

जैसा कि हमने ऊपर उल्लेख किया है, UPSC CSAT पाठ्यक्रम के प्रश्नो को हल करना अत्यधिक फायदेमंद होगा। यह निश्चित रूप से आपके द्वारा कवर किए गए विषयों को संशोधित करने में आपकी मदद करेगा और आपके समय को पूर्णता के साथ प्रबंधित भी करेगा। इसके अतिरिक्त, मॉक टेस्ट आपकी सटीकता बढायेगा और प्रश्नों को जल्दी हल करने मे भी आपकी सहायता करेगा।

UPSC CSAT पाठ्यक्रम के लिए सर्वश्रेष्ठ पुस्तकें

यदि आप स्मार्ट पहुँच के साथ कडी मेहनत करते हो, तो आप UPSC के लिए CSAT पाठ्यक्रम को आसानी से कवर कर पाएंगे। CSAT की तैयारी के लिए अरिहंत प्रकाशन, टीएमएच प्रकाशन की पुस्तकें पर्याप्त होंगी। लगातार अभ्यास के साथ, अभ्यर्थी अच्छे अंकों के साथ इस दौर के लिए अर्हता प्राप्त करने में सक्षम होंगे। इसलिए इन किताबों के प्रश्नों का अधिक से अधिक अभ्यास करें और मॉक टेस्ट भी दें।

UPSC CSAT पाठ्यक्रम विश्लेषण

नीचे हमने 2015 से 2020 तक CSAT परीक्षा के लिए विषयवार विश्लेषण को कवर किया है। हमने UPSC CSAT पाठ्यक्रम में शामिल विषयों से पूछे गए प्रश्नों की संख्या का उल्लेख किया है। 

वर्ष

बोधगम्यता

(comprehension)

तार्किक और विश्लेषणात्मक विवेकबुद्धि

डेटा विवेचन 

निर्णयन (निर्णय लेने कि कौशलता)

गणित और मूल (बेसिक) संख्या पद्धति

2015

30

18

2

0

30

2016

28

21

0

0

31

2017

30

22

0

0

28

2018

26

22

14

0

18

2019

30

18

0

0

32

2020

26

12

0

0

42

Comments

write a comment

Follow us for latest updates