Study Notes हिंदी साहित्य : सर्वप्रथम

By Mohit Choudhary|Updated : June 30th, 2022

यूजीसी नेट परीक्षा के पेपर -2 हिंदी साहित्य की तैयारी के लिए आपका परिचय साहित्य से महत्वपूर्ण है। इस विषय की प्रभावी तैयारी के लिए, यहां यूजीसी नेट पेपर- 2 के लिए  हिंदी साहित्य परिचय के लिए Mini Series के अंतर्गत आवश्यक नोट्स कई भागों में उपलब्ध कराए जाएंगे। हिंदी साहित्य : सर्वप्रथम से संबंधित नोट्स इस लेख मे साझा किये जा रहे हैं। जो छात्र UGC NET 2022 की परीक्षा देने की योजना बना रहे हैं, उनके लिए ये नोट्स प्रभावकारी साबित होंगे।   

  • UGC NET हिंदी साहित्य की परीक्षा की तैयारी तथा उसमे सफलता के लिए जरूरी है कि हम उन प्रश्नों पर ध्यान दें जो साल दर साल परीक्षा  हैं।  ‘साहित्य के सर्वप्रथम’ के प्रश्न हर साल NET के प्रश्नपत्र में आपको मिलेंगे। 
  • नीचे दिए गए तालिका में आपको कुछ महत्वपूर्ण सर्वप्रथम रचनाएँ एवं रचनाकार की सूची प्रदान की जा रही है। 

सर्वप्रथम 

रचना

रचनाकार 

हिंदी का प्रथम कवि

 

सरहपा (नवीं शताब्दी)

खड़ी बोली हिंदी के प्रथम कवि

 

अमीर खुसरो 

अपभ्रंश का प्रथम प्रबंध काव्य

भविसयत्तकहा

धनपाल

हिंदी का प्रथम महाकाव्य

पृथ्वीराजरासो

चंदबरदाई

हिंदी खड़ी बोली का प्रथम महाकाव्य

प्रियप्रवास

हरिऔध

हिंदी खड़ी बोली गद्य की प्रथम रचना

चंद छंदबरनन की महिमा

गंग कवि

हिंदी खड़ी बोली का प्रथम गद्य ग्रंथ

भाषायोगवाशिष्ठ 

रामप्रसाद निरंजनी

शुद्ध एवं परिमार्जित बोली के प्रथम लेखक

 

रामप्रसाद निरंजनी

हिंदी काव्य में सर्वप्रथम बारहमासा वर्णन

बीसलदेवरासो 

नरपति नाल्ह

हिंदी काव्य में सर्वप्रथम नखशिख वर्णन

राउलवेल

रोडा

हिंदी का प्रथम चम्पू काव्य

राउलवेल

रोडा

हिंदी के प्रथम गीतकार

 

विद्यापति

हिंदी की प्रथम कवयित्री

 

मीरा

हिंदी के प्रथम दलित कवि

 

संत रैदास

आधुनिक हिंदी के प्रथम दलित कवि

अछूत की शिकायत

हीरा डोम 

हिंदी आलोचना की प्रथम पुस्तक

समालोचना समुच्चय

महावीर प्रसाद द्विवेदी

हिंदी का प्रथम मौलिक उपन्यास 

'परीक्षा गुरु’

लाला श्रीनिवास दास 

हिंदी का प्रथम दलित उपन्यास

छप्पर 

जयप्रकाश कर्दम (1994)

हिंदी की प्रथम महिला उपन्यासकार

सुहासिनी (1890) 

साध्वी सतीप्राण अवला ( मल्लिका देवी) 

हिंदी को प्रथम मौलिक कहानी 

इंदुमती

किशोरीलाल गोस्वामी

हिंदी की प्रथम वैज्ञानिक कहानी 

चंद्रलोक की यात्रा

केशव प्रसाद 

हिंदी की प्रथम दलित कहानी 

वचनबद्ध ['मुक्ति स्मारिका' 1975 ई. में प्रकाशित]

सतीश

हिंदी की प्रथम आत्मकथा

अर्द्धकथानक

बनारसीदास

हिंदी का प्रथम मानक जीवनी ग्रंथ

कलम का सिपाही 

अमृतराय

हिंदी का प्रथम यात्रा संस्मरण

लंदन यात्रा

श्रीमती हरदेवी, 1883 ई.

हिंदी का प्रथम रिपोर्ताज

लक्ष्मीपुरा 

शिवदान सिंह चौहान

हिंदी का प्रथम संस्मरण 

पद्मपराग

पद्मसिंह शर्मा

हिंदी की प्रथम महिला आत्मकथा 

मेरी जीवन यात्रा

जानकी देवी बजाज

हिंदी की प्रथम दलित महिला आत्मकथा 

दोहरा अभिशाप

कौशल्या वैसंत्री

हिंदी में प्रथम तुलनात्मक आलोचना 

बिहारी और सादी

पद्मसिंह शर्मा

हिंदी नाटक का प्रथम सैद्धांतिक ग्रंथ

रूपकरहस्य

श्यामसुंदर दास

हिंदी के प्रथम व्याकरणकार 

हिंदुस्तानी ग्रामर डच भाषा में

जे.जे. केटलर (हॉलैंड)

हिंदी भाषा में हिंदी का प्रथम व्याकरण

हिंदी भाषा का व्याकरण (1827 ई.)

पादरी एम.टी. आदम

खड़ी बोली का प्रथम काव्य ग्रंथ 

एकांतवासी योगी 

श्रीधर पाठक

मुक्त छंद के प्रथम प्रयोक्ता

जुही की कली

निराला

हिंदी में रीति काव्य का प्रथम ग्रंथ

हिततरंगिनी 

कृपाराम

हिंदी का प्रथम मौलिक नाटक

नहुष 

गोपालचंद 

हिंदी का प्रथम अभिनीत नाटक

जानकी मंगल 

शीतला प्रसाद त्रिपाठी

हिंदी की प्रथम एकांकी

एक घूंट 

जयशंकर प्रसाद

छायावाद का प्रथम काव्य संग्रह

झरना

जयशंकर प्रसाद

हिंदी का प्रथम भारतीय व्याकरण

भाषा चंद्रोदय, 1855 ई.

पं. श्रीलाल

*ऊपर दी गयी तालिका महत्वपूर्ण सर्वप्रथम रचना और रचनाकार के परिप्रेक्ष्य से तैयार की गयी है। 

  • लेख के अगले भाग में , नीचे दी गयी तालिका में कुछ ऐसे महत्वपूर्ण पद दिए गए हैं जिनका हिंदी साहित्य और उसके विकास से  है, साथ ही उसके प्रथम पदाधिकारियों की सूची भी उपलब्ध की जा रही है।   

पद 

प्रथम पदाधिकारी 

राजभाषा आयोग के प्रथम अध्यक्ष 

बालासाहेब गंगाधर खेर

हिंदी साहित्य परिषद के प्रथम अध्यक्ष

पुरुषोत्तम दास टंडन

राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय के प्रथम अध्यक्ष

इब्राहिम अलकाजी

हिंदी में प्रथम डी-लिट उपाधि प्राप्तकर्ता

डॉ. पीताम्बरदत्त बड़थ्वाल

नागरी प्रचारिणी सभा के प्रथम सभापति 

बाबू राधाकृष्णदास

नागरी लिपि सुधार समिति के प्रथम सभापति 

महात्मा गांधी (1935 ई.)

हिंदी की प्रथम अतुकांत रचना 

जयशंकर प्रसाद (प्रेमपथिक)

देवनागरी लिपि सुधार समिति के प्रथम अध्यक्ष

आचार्य नरेन्द्र देव (1947 ई.)

हिंदुस्तानी के स्थान पर 'हिंदी' शब्द का सर्वप्रथम प्रयोक्ता

गिलक्राइस्ट

'खड़ी बोली' शब्द का प्रथम प्रयोक्ता 

लल्लूलाल

Join करें Online Classroom Program और JRF की सफलता के अवसरों को बढ़ाएं 900% तक। 

हमें आशा है कि आप सभी 'हिंदी साहित्य : सर्वप्रथम' से संबंधित महत्वपूर्ण बिंदु समझ गए होंगे। अगली Mini Series के लिए आप अपने सुझाव कमेंट बॉक्स में दे सकते हैं।  

Thank you

Team BYJU'S Exam Prep.

Sahi Prep Hai To Life Set Hai!

Comments

write a comment

UGC NET & SET

UGC NETKSETTNSET ExamGSET ExamMH SETWB SETMP SETSyllabusQuestion PapersPreparation

Follow us for latest updates