टमाटर का लाल रंग किसकी उपस्थिति के कारण होता है?

By Raj Vimal|Updated : August 5th, 2022

टमाटर दुनिया भर में पाए जाने वाले सब्जियों में से एक है। इसकी सबसे पहले उपज दक्षिणी अमेरिका में हुआ था। फिर वहीँ, मक्सिको में इसे भोजन के रूप में उपयोग करने का चलन बढ़ गया। शुरू शुरू में जब टमाटर उगाया जाता है तो इसका रंग हर होता है, लेकिन इसके पकने के बाद इसका रंग लाल हो जाता है। इसके लाल होने कारण लाइकोपीन होता है।

क्यों लाल होता है टमाटर

टमाटर का पुराना वनस्पतिक नाम लाइकोपोर्सिकान एस्कुलेंटम मिल है। अब इसे सोलेनम लाइको पोर्सिकान कहते हैं। कई लोग ऐसे होते हैं, जिनके लिए टमाटर अनिवार्य सब्जी है जो बिना टमाटर के खाना पकाने भी नहीं कर चाहते।

टमाटर जब शुरू में कच्चा होता है, तो उसका रंग हरा होता है। यह हरा रंग, टमाटर में मौजूद क्लोरोफिल (Chlorophyll) के कारण होता है। क्लोरोफिल ही पौधों के और पेड़ के हरे होने का कारण भी है। सूर्य के प्रकश में धीरे-धीरे टमाटर पकने लगते हैं। जिससे क्लोरोफिल धीरे-धीरे लाइकोपीन में बदल जाते हैं। लाइकोपिन का रंग लाल होता है। यही कारण है कि हरे टमाटर पकने पर लाल हो जाते है।

Summary

टमाटर का रंग लाल क्यों होता है?

टमाटर के लाल रंग होने का कारण है लाइकोपिन, जिसका रंग लाल होता है। टमाटर में इसका निर्माण, क्लोरोफिल के पकने से होता है। हरे रंग का टमाटर पकने के बाद लाल हो जाता है क्योंकि क्लोरोफिल सूर्य के प्रकाश से लाइकोपिन में बदल जाता है।

Related Questions

Comments

write a comment

टमाटर का रंग लाल क्यों होता है FAQs

  • हरे रंग के टमाटर में मौजूद क्लोरोफिल सूर्य के किरणों के कारण लाइकोपिन में बदल जाता है और टमाटर का रंग लाल हो जाता है।

  • टमाटर कि उत्पति सबसे पहले दक्षिण अमेरिका में हुई थी और फिर मक्सिको से इसे खाने का चलन शुरू हुआ।

Follow us for latest updates