State of India's Environment Report 2021

By Sudheer Kumar K|Updated : June 20th, 2021

According to the State of India's Environment Report 2021, India has slipped from 119 in the last year to 117 on the 17 Sustainable Development Goals (SDGs) adopted under the 2030 agenda by 193 United Nations member states in 2015. 

 

स्टेट ऑफ इंडियाज एनवायरनमेंट रिपोर्ट (SIER) 2021 के अनुसार, 2015 में संयुक्त राष्ट्र के 193 सदस्य देशों द्वारा 2030 एजेंडे के तहत अंगीकृत 17 संधारणीय विकास लक्ष्यों (SDG) पर भारत पिछले वर्ष के 119वें स्‍थान से खिसक कर 117वें स्‍थान पर आ गया है।

SIER 2021 के बारे में

स्टेट ऑफ इंडियाज एनवायरनमेंट रिपोर्ट 2021 नई दिल्ली स्थित एक पर्यावरण NGO सेंटर फॉर साइंस एंड एनवायरनमेंट द्वारा जारी की गई है। रिपोर्ट विश्व पर्यावरण दिवस (5 जून) की पूर्व संध्या पर प्रतिवर्ष जारी की जाती है।

रिपोर्ट की मुख्य बातें

  • रिपोर्ट के अनुसार, 2015 में संयुक्त राष्ट्र के 193 सदस्य देशों द्वारा 2030 एजेंडे के तहत अंगीकृत 17 संधारणीय विकास लक्ष्यों (SDG) पर भारत पिछले वर्ष के 115वें स्‍थान से फिसलकर 117वें स्‍थान पर आ गया है। एजेंडा 2030 वर्तमान और भविष्य में लोगों और ग्रह के लिए शांति और समृद्धि पर एक साझा योजना प्रदान करता है।
  • रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत की रैंक में दो स्थानों की गिरावट का प्रमुख कारण निम्नलिखित प्रमुख लक्ष्यों को पूरा करने में विफलता थी:
  • SDG-2: भूख को समाप्त करना और खाद्य सुरक्षा प्राप्त करना
  • SDG-5: लैंगिक समानता हासिल करना
  • SDG-9: लचीली अवसंरचना का निर्माण, समावेशी एवं संधारणीय औद्योगीकरण को बढ़ावा देना तथा नवाचार बढ़ाना
  • भारत का समग्र SDG स्कोर 100 में से 9 है जो चार दक्षिण एशियाई देशों- भूटान, नेपाल, श्रीलंका और बांग्लादेश की तुलना में खराब प्रदर्शन दर्शाता है।
  • रिपोर्ट ने 2030 तक SDG को पूरा करने के लिए राज्य-तत्‍परता को निम्‍न प्रकार से व्‍यक्‍त किया है:
  • बिहार और झारखंड न्‍यूनतम रूप से तैयार हैं। झारखंड 5 SDG में पीछे है, जबकि बिहार सात SDG में पीछे है।
  • केरल, हिमाचल प्रदेश और चंडीगढ़ का समग्र स्कोर सर्वश्रेष्ठ है और वे SDG हासिल करने के मार्ग पर आगे बढ़ रहे हैं।
  • रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि भारत ने कई पर्यावरणीय संकेतकों में खराब रैंक हासिल की है जैसे
  • पर्यावरण प्रदर्शन सूचकांक (EPI) के मामले में भारत 180 देशों के बीच 168वें स्थान पर है, जो निम्नलिखित संकेतकों पर मापा जाता है:
  • पर्यावरणीय स्वास्थ्य,
  • जलवायु,
  • वायु प्रदूषण,
  • स्वच्छता और पेयजल,
  • पारिस्थितिकी तंत्र सेवाएं,
  • जैव विविधता, आदि।
  • पर्यावरण स्वास्थ्य श्रेणी में भारत 172वें स्थान पर है। यह इस बात का संकेतक है कि कोई देश अपनी आबादी को पर्यावरणीय स्वास्थ्य जोखिमों से कितनी अच्छी तरह बचा रहा है।

 Daily Current Affairs

Daily Free Live Classes, Check Here

Ongoing Live Courses

IAS 2022 Foundation Course For GS (Pre cum Main)

IAS 2021 Crash Course for Prelims

Free Notes

UPSC Prelims Study Notes

UPSC Mains Study Notes

More From Us:

Get Unlimited access to Structured Live Courses and Mock Tests- Online Classroom Program

Get Unlimited access to 70+ Mock Tests-BYJU'S Exam Prep Test Series

Comments

write a comment
tags :IAS Hindi
tags :IAS Hindi

Follow us for latest updates