नयन का संधि विच्छेद क्या है?

By Sakshi Yadav|Updated : July 25th, 2022

नयन में संधि का प्रकार नयन में अयादि स्वर संधि संधि है। नयन का संधि विच्छेद ने + अन होता है। तथा इसमें अयादि स्वर संधि लागू होती है। जब दो शब्द मिलते हैं तो पहले शब्द की अंतिम ध्वनि और दूसरे शब्द की पहली ध्वनि आपस में मिलकर जो परिवर्तन लाती हैं उसे संधि कहते हैं। अथार्त संधि किये गये शब्दों को अलग-अलग करके पहले की तरह करना ही संधि विच्छेद कहलाता है। अथार्त जब दो शब्द आपस में मिलकर कोई तीसरा शब्द बनती हैं तब जो परिवर्तन होता है , उसे संधि कहते हैं।

Summary:

नयन का संधि विच्छेद क्या है?

दो वर्णों के मेल से होने वाले विकार को संधि कहते हैं। इस मिलावट को समझकर वर्णों को अलग करते हुए पदों को अलग-अलग कर देना संधि-विच्छेद है।जैसे

हिम + आलय (अ + आ)

हिम + (अ + आ) + लय

हिमा आ लय (‘म‘ के साथ ‘आ‘ का संयोग होने पर ‘हिमा‘ बना)

अब ‘हिमा‘ और ‘लय’ दोनों को मिला देने पर ‘हिमालय बना।

Related Links:

Comments

write a comment

Follow us for latest updates