रेलवे ग्रुप D परीक्षा की तैयारी के लिए अंतिम दिनों के टिप्‍स

By Ashwini Shivhare|Updated : December 9th, 2021

RRB Group D Preparation Strategy: The Railway Recruitment Board (RRB) is expected to release RRB Group D 2021 exam dates anytime now. RRB Group D is expcted to be conducted around September and October. It's very apt time for students to begin their preparation for RRB group D exam in an organized manner. In this article, we are sharing RRB Group D preparation strategy to help candidates being prepared for the exam in better way.

RRB ग्रुप D परीक्षा की तैयारी के लिए अंतिम दिनों के टिप्‍स। रेलवे ने RRB ग्रुप D परीक्षा की आधिकारिक तिथियां पहले ही जारी कर दी हैं। जैसा कि अधिसूचना में दिया गया है, रेलवे भर्ती बोर्ड स्तर 1 ग्रुप D हेतु योग्य उम्मीदवारों की भर्ती के लिए ऑनलाइन परीक्षा 17 सितंबर से आयोजित करेगा। इसलिए, केवल कुछ दिन शेष होने के साथ, अधिकांश छात्रों के मन में केवल एक प्रश्‍न गूंज रहा होगा, "इन अंतिम दिनों में क्या करना है"? यह लेख आपको उन सभी आवश्यकताओं के साथ मदद करेगा जो तैयारी के इन अंतिम दिनों में आपके साथ होनी चाहिए।

परीक्षा पैटर्न की स्पष्‍ट समझ होना

किसी भी परीक्षा में सफल होने के लिए, आपको उस पैटर्न का ज्ञान होना चाहिए जिसमें प्रश्‍न पूछे जा रहे हैं। RRB ने हाल ही में ग्रुप D के लिए प्रश्‍नपत्र पैटर्न अधिसूचित किया है। इसके अलावा, रेलवे द्वारा हाल ही में परीक्षा पैटर्न में एक आश्‍चर्यजनक अंश अधिसूचित किया गया है। आइए अब CBT परीक्षा के लिए RRB ग्रुप D परीक्षा की अनुभाग-वार संरचना पर विस्तृत चर्चा करें।

RRB ग्रुप D अनुभाग-वार प्रश्‍न

अनुभाग

प्रश्‍न

गणित

25

सामान्‍य बुद्धिमत्‍ता एवं तर्कशक्‍ति

30

सामान्‍य विज्ञान

25

सामान्‍य जागरुकता एवं सामयिकी

20

कुल

100

  • अधिसूचना के अनुसार, गणित और तर्कशक्‍ति से 55 प्रश्‍न और सामान्य विज्ञान, सामान्‍य ज्ञान एवं सामयिकी विषय से 45 प्रश्‍न होंगे।
  • CBT की कुल अवधि 90 मिनट होगी।
  • गलत उत्‍तरों के लिए नकारात्मक अंकन होगा और प्रत्येक गलत उत्‍तर के लिए आवंटित अंकों के 1/3 अंक काटे जाएंगे।

RRB ALP /तकनीशियन परीक्षा का विश्‍लेषण करने के बाद प्रश्‍नों का अपेक्षित स्तर

चूंकि रेलवे ने हाल ही में RRB ALP /तकनीशियन परीक्षा आयोजित की है और जैसा कि यह पूरी हो चुकी है, हमने सभी परिवर्तनों का विश्‍लेषण किया है और पूर्ण विश्‍लेषण के आधार पर हमने उम्मीदवारों के लिए योजना तैयार की है। हम प्रत्येक अनुभाग के लिए दृष्‍टिकोण पर चर्चा करेंगे।

सामान्य विज्ञान और सामान्य जागरूकता

  1. चूंकि सामयिकी का अधिक महत्‍व है और इससे बीस प्रश्‍न पूछे जाएंगे, इसलिए इस अनुभाग के महत्व को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है।
  2. ALP परीक्षा के लिए प्रश्‍नों का स्‍तर मध्यम-कठिन था, इसलिए इसे अच्छी तरह से तैयार किया जाना चाहिए।
  3. छात्रों को महत्वपूर्ण पुरस्कार, महत्वपूर्ण पुस्तक एवं लेखक, चर्चा में स्‍थान, चर्चा में व्यक्‍ति, महत्वपूर्ण खेल टूर्नामेंट, जी-20 शिखर सम्मेलन, आसियान, संयुक्‍‍त राष्‍ट्र सुरक्षा परिषद आदि जैसे महत्वपूर्ण विश्‍व संगठनों से संबंधित पिछले वर्ष की जानकारी के साथ अंतिम छह महीनों की सामयिकी का अध्ययन करना चाहिए।
  4. उम्मीदवारों को ALP विश्‍लेषण के आधार पर सामान्य विज्ञान के लिए भौतिक विज्ञान, रसायन विज्ञान और जीव विज्ञान के मूल प्रश्‍नों का अध्‍ययन करना चाहिए, इस अनुभाग में 25 प्रश्‍न हैं।
  5. यह उम्मीद की जाती है कि इस अनुभाग के प्रश्‍नों का स्तर सरल-मध्‍यम होगा।
  6. ध्यान केंद्रित करने वाले मुख्य विषय आवर्त सारणी (विभिन्न वर्ग के तत्वों के अध्ययन के साथ इस विषय का गहराई से अध्ययन करना चाहिए), बल (गति के समीकरणों के उपयोग वाले मूल संख्यात्मक प्रश्‍न), कार्य, शक्‍ति और ऊर्जा (मूल मात्रक और संख्यात्मक प्रश्‍न), रासायनिक अभिक्रियाएं (रासायनिक अभिक्रिया के प्रकार और महत्वपूर्ण अभिक्रियाएं), प्रकाशमिती (नेत्र, लेंस और दर्पण के प्रकार और उनके प्रयोग इसके अलावा दर्पण और लेंस के सूत्रों पर आधारित मूल संख्यात्मक प्रश्‍न), मानव शरीर के विभिन्न तंत्र, फूलों के भाग, विटामिन की कमी से संबंधित रोग आदि कुछ महत्वपूर्ण विषय हैं जिन्हें ध्यान में रखा जाना चाहिए।

गणित

  1. यदि अच्छी रणनीति के साथ तैयार किया जाए तो यह अनुभाग आपको अच्छे अंक दिला सकता है।
  2. जैसा कि ALP परीक्षा में देखा गया है, अधिकांश पालियों में प्रश्‍नपत्र का स्तर सरल था, और कुछ प्रश्‍नों को मौखिक रूप से हल किया जा सकता था।
  3. चूंकि अधिकांश प्रश्‍न अंकगणितीय भाग से थे इसलिए आपको मूल बातों और सूत्रों पर अधिक ध्‍यान देना चाहिए।
  4. गणित अनुभाग से महत्वपूर्ण विषय प्रतिशत, साधारण ब्याज और चक्रवृद्धि ब्याज (सूत्र पर आधारित), लाभ और हानि, समय और कार्य, नल और टंकी (इस विषय से मध्यम स्तर के प्रश्‍न), बुनियादी त्रिकोणमिति, द्विघात समीकरण पर आधारित मूल प्रश्‍न, एल.सी.एम., एच.सी.एफ., वर्गमूल, संख्‍या पद्धति, सामान्‍य सांख्‍यिकी, मूल आरेख इत्यादि महत्वपूर्ण विषय हैं।

सामान्य बुद्धिमत्‍ता और तर्कशक्‍ति

  1. तर्कशक्‍ति सबसे महत्वपूर्ण अनुभाग है क्योंकि इससे अधिक प्रश्‍न पूछे जाते हैं और यदि कोई इस अनुभाग का अच्छी तरह से अभ्यास करता है, तो अंक आसानी से प्राप्‍त किए जा सकते हैं।
  2. अधिकांश ALP पालियों में, तर्कशक्‍ति अनुभाग के लिए प्रश्‍नों का स्तर अच्छा था और छात्रों के लिए इस अनुभाग में अच्‍छे अंक हासिल करना आसान नहीं था।
  3. इस चुनौती को पार करने के लिए उम्मीदवारों को अधिक से अधिक प्रश्‍न हल करने का अभ्‍यास करना होगा क्योंकि एक बार जब आप विभिन्न प्रकार के प्रश्‍नों का अभ्‍यास करके पैटर्न से परिचित हो जाएंगे, तो आप अच्छे अंक प्राप्‍त कर पाएंगे।
  4. जो विषय परीक्षा में अधिक बार पूछे गए हैं और महत्वपूर्ण हैं वे इस प्रकार हैं- कथन एवं अभिकथन (सर्वाधिक पूछा गया विषय), घड़ी, कैलेंडर, तार्किक तर्कशक्‍ति (लॉजिकल रीजनिंग), दर्पण एवं जल प्रतिबिंब, श्रृंखला, आयु संबंधी प्रश्‍न, दूरी और दिशा आदि।

दोहराना आवश्यक है

तैयारी का सबसे महत्वपूर्ण चरण दोहराना है। यदि आपने जो महत्‍वपूर्ण विषय पहले पढ़े हैं उन्‍हें अच्‍छी तरह से नहीं दोहराया, तो यह विषय को न पढ़ने जैसा ही होगा। दोहराने से आपको महीनों पहले जो कुछ भी पढ़ा था, उसे याद रखने में सहायता मिलेगी। विज्ञान के मुताबिक, यदि आपने जो अध्ययन किया है, उसे दोहराया नहीं, तो आप 70% जानकारी भूल जाएंगे और निश्‍चित रूप से, आप ऐसा नहीं चाहेंगे। महत्वपूर्ण विषयों की एक सूची बनाएं और उन सभी को दोहराएं। यह आपके ज्ञान को बेहतर बनाएगा और आप परीक्षा देते समय आत्‍मविश्‍वास महसूस करेंगे। अब प्रश्‍न यह उठता है, कैसे दोहराएं?

सामान्य ज्ञान के अतिरिक्‍त हम किसी अन्‍य विषय के लिए मौखिक रूप से दोहराने की सलाह नहीं देंगे। इसके अलावा, कुशलता से दोहराने के लिए, हम आपको सामान्‍य ज्ञान के नोट्स बनाकर उन्हें अपने रेफ्रिजरेटर या अलमारी या अपने कमरे में कहीं भी चपकाने की सलाह देते हैं। इन नोट्स/चार्ट को हर समय अपनी आंखों के सामने रखकर आपको उन्हें दोहराने से सामान्‍य ज्ञान को आसानी से याद रखने में सहायता मिलेगी। दिन के अंत में, याद रखें, जो कुछ आपने पढ़ा है उसे दोहराएं। गणित और तर्कशक्‍ति जैसे अन्य विषयों के लिए, हमेशा कुछ समय पश्‍चात इन्‍हें दोहराते रहें। उदाहरण के लिए: गणित के गति, समय और दूरी विषय से शुरू करें और फिर तर्कशक्‍ति के कोडिंग-डिकोडिंग जैसे अन्‍य विषयों पर जाएं। इस तरह, आप बोझ नहीं महसूस नहीं करेंगे।

फुल मॉक टेस्‍ट का दैनिक रूप से अभ्‍यास करें

यह महत्‍वपूर्ण समय है और आखिरी समय पर परीक्षा की तैयारी करने का सबसे अच्छा तरीका है अधिक से अधिक मॉक टेस्‍ट का अभ्‍यास करना। मॉक टेस्ट का अभ्‍यास करने से आपको न केवल आपके प्रदर्शन को समय के अनुसार पंक्‍तिबद्ध करने में सहायता मिलेगी बल्कि प्रश्‍नों को हल करने की गति भी बढ़ेगी। जितना अधिक आप मॉक टेस्‍ट का अभ्‍यास करेंगे, उतना ही आप कुशल बनेंगे। प्रतिदिन कम से कम एक मॉक टेस्‍ट देने की आदत बनाएं। आपका काम यहीं समाप्‍त नहीं होता है। मॉक टेस्‍ट का अभ्‍यास करने के बाद, दिए गए गलत उत्‍तरों के विस्तृत हल पर जाएं। यह पता लगाने का प्रयास करें कि क्या किसी प्रश्‍न को किसी शॉर्टकट विधि द्वारा हल किया जा सकता है। यदि आपको किसी विशेष विषय को हल करने में लगातार समस्याएं होती हैं, तो उस विषय का कुछ घंटे अभ्‍यास करें और उन प्रश्‍नों को दोबारा हल करें। वास्तविक RRB ग्रुप D परीक्षा से पहले मॉक टेस्‍ट का प्रतिदिन अभ्‍यास करके, छात्र वास्तविक परीक्षा में होने वाली छोटी-छोटी गलतियों की संभावना को समाप्‍त कर देंगे।

बस केवल इतना ही! यदि आप परीक्षा से पहले के अंतिम दिनों में इन सामान्‍य चरणों का पालन करेंगे, तो आप निश्‍चित रूप से अपने लक्ष्य के करीब पहुंच जाएंगे। यदि आपके मन में कोई प्रश्‍न है, तो कृपया नीचे कमेंट करके हमें अवश्‍य बताएं।

रेलवे ग्रुप डी के नवीनतम पैटर्न पर आधारित फ्री मॉक टेस्ट

'Attempt subject wise questions in our new practice section' Click here
Download Gradeup, the best railways exam app for Preparation

धन्यवाद

टीम ग्रेडअप

Comments

write a comment

SSC & Railway

CGLSSC GDDFCCILCHSLCPONTPCMTSStenoGroup DDelhi PoliceOthersCoursesMock Test
tags :SSC & RailwayGeneralRRB GROUP D OverviewRRB GROUP D Apply OnlineRRB GROUP D EligibilityRRB GROUP D SalaryRRB GROUP D Selection Process

Follow us for latest updates