इंडिका का लेखक कौन था?

By Ritesh|Updated : December 7th, 2022

इंडिका के लेखक मेगस्थनीज थे। वे एक यूनानी राजदूत थे और उन्हें यूनानी शासक सेल्यूकस द्वारा चंद्रगुप्त मौर्य के दरबार में भेजा गया था। मेगस्थनीज, मौर्य साम्राज्य की राजधानी पाटलिपुत्र में रहते थे और उसी दौरान 'इंडिका' की रचना की थी। अपनी पुस्तक मेगस्थनीज में, उन्होंने मौर्य काल में भारत में हुए अपने अनुभवों के बारे में लिखा था।

इंडिका का लेखक

मेगस्थनीज हेलेनिस्टिक काल में एक प्राचीन यूनानी इतिहासकार, राजनयिक और भारतीय नृवंशविज्ञानी और खोजकर्ता थे। उन्होंने अपनी पुस्तक इंडिका में भारत का वर्णन किया, जो अब खो गया है, लेकिन बाद के लेखकों में पाए गए साहित्यिक अंशों से आंशिक रूप से पुनर्निर्माण किया गया है जो उनके काम को उद्धृत करते हैं।

मेगस्थनीज भारत का लिखित विवरण छोड़ने वाला पश्चिमी दुनिया का पहला व्यक्ति था। मेगस्थनीज चंद्रगुप्त मौर्य के दरबार में सेल्यूकस I निकेटर का यूनानी राजदूत था। मेगस्थनीज चंद्रगुप्त मौर्य के शासनकाल के दौरान किसी समय भारत आया था। मेगस्थनीज की मूल इंडिका खो गई है, लेकिन इसके कुछ हिस्से अभी भी स्टारबो, एरियन, डियोडोरस, प्लूटार्क और जस्टिन जैसे ग्रीक लेखकों के लेखन में जीवित हैं।

ऐसा प्रतीत होता है कि वह उत्तर-पश्चिमी भारत में पंजाब क्षेत्र से होकर गुजरा है, क्योंकि वह इस क्षेत्र की नदियों का विस्तृत विवरण प्रदान करता है। उसके बाद उन्होंने यमुना और गंगा नदियों के किनारे पाटलिपुत्र की यात्रा की होगी। फिर उन्होंने इंडिका के रूप में भारत के बारे में जानकारी संकलित की, एक दस्तावेज जो अब एक खोया हुआ काम है। यह बाद के लेखकों द्वारा उद्धरणों के रूप में आंशिक रूप से जीवित है।

Summary:

इंडिका का लेखक कौन था?

इंडिका ग्रीक लेखक मेगस्थनीज द्वारा मौर्य भारत का एक लेख है। जिसका मूल लेख खो गया था लेकिन बाद के लेखकों में पाए गए साहित्यिक अंशों से उसका पुनर्निर्माण किया गया था। फेलिक्स जैकोबी के फ्रैगमेंटे डेर ग्रिचिसचेन हिस्टोरिकर में एक 36 पृष्ठों की किताब है जिसमे मेगस्थनीज का वर्णन है।

Related Questions:

Comments

write a comment

Featured Articles

Follow us for latest updates