दक्षिण अफ्रीका की तीन राजधानी कौन सी है?

By Sakshi Yadav|Updated : December 1st, 2022

दक्षिण अफ्रीका में तीन राजधानी प्रिटोरिया, ब्लोमफ़ोन्टेन और केप टाउन हैं, जिनमें सरकार की कार्यकारी, न्यायिक और विधायी शाखाएँ शामिल है। दक्षिण अफ्रीका 1,221,000 वर्ग किमी का क्षेत्र है। दक्षिण अफ्रीका की आबादी 60 मिलियन है। देश की प्रशासनिक राजधानी प्रिटोरिया (तशवाने) है, विधायी राजधानी केप टाउन है और न्यायिक राजधानी ब्लोमफ़ोन्टेन (मंगौंग) है। दक्षिण अफ्रीका सबसे बड़ा शहर जोहान्सबर्ग है।

दक्षिण अफ्रीका की तीन राजधानियाँ

एशिया के बाद अफ्रीका दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा और दूसरा सबसे अधिक आबादी वाला महाद्वीप है। दक्षिण अफ्रीका में 11 आधिकारिक भाषाएं हैं: अफ्रीकी, अंग्रेजी, नेडबेले, उत्तरी सोथो, सोथो, स्वाज़ी, त्सवाना, सोंगा, वेंडा, ज़ोसा और ज़ुलु। सबसे अधिक बोली जाने वाली पहली भाषाएँ ज़ुलु और अफ्रीकी हैं। दक्षिण अफ्रीका में सबसे महत्वपूर्ण धर्म ईसाई धर्म हैं।

दक्षिण अफ्रीका में तीन राजधानी प्रिटोरिया, ब्लोमफ़ोन्टेन और केप टाउन हैं। 1910 में, जब दक्षिण अफ्रीका संघ का गठन किया गया था, तो दक्षिण अफ्रीका की राजधानी एक बड़ा विवाद था। पूरे देश में शक्ति संतुलन फैलाने के लिए एक समझौता किया गया और इससे वर्तमान राजधानी शहरों का जन्म हुआ। वो समझौता कुछ इस प्रकार है:

  • प्रिटोरिया यह की प्रशासनिक राजधानी है क्योंकि यह कैबिनेट के अध्यक्ष सहित दक्षिण अफ्रीकी सरकार की कार्यकारी शाखा है। साथ ही शहर में सरकारी और विदेशी दूतावासों के कई विभाग भी हैं। यह उत्तरपूर्वी भाग में और जोहान्सबर्ग शहर के पास है।
  • केप टाउन विधायी राजधानी है। यह पर देश की विधायी संसद है, जिसमें नेशनल असेंबली और नेशनल काउंसिल ऑफ प्रोविंस शामिल हैं। केप टाउन जनसंख्या में दूसरा सबसे बड़ा शहर है।
  • ब्लोमफ़ोन्टेन को न्यायिक राजधानी माना जाता है। यह दक्षिण अफ्रीका की दूसरी सबसे बड़ी अदालत, सुप्रीम कोर्ट ऑफ अपील यह स्थित है और ये दक्षिण अफ्रीका के केंद्र में भी है।

Summary:

दक्षिण अफ्रीका की तीन राजधानी कौन सी है?

दक्षिण अफ्रीका की तीन राजधानियाँ हैं: केप टाउन जो महानगरीय नगर पालिका है, पश्चिमी केप, विधायी राजधानी क्योकि यहाँ देश की संसद है। ब्लोमफ़ोन्टेन को न्यायिक राजधानी माना जाता है क्योंकि यहाँ सर्वोच्च न्यायालय है।

Related Questions:

Comments

write a comment

Follow us for latest updates