भारत के कितने राज्य ने नेपाल के साथ सीमा साझा की है?

By Ritesh|Updated : January 3rd, 2023

नेपाल के साथ भारत के 5 राज्य अपनी सीमाएं साझा करते हैं, इनमे बिहार, उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, उत्तराखंड, और सिक्किम शामिल हैं। भारत के पूर्व में नेपाल एक स्वतंत्र देश है नेपाल। यह अपनी कई जरूरतों के लिए भारत पर निर्भर करता है, जैसे पेट्रोल, गेनेरिक दवाएं और अन्य सामान। भारत से कई पर्यटक हर साल नेपाल घुमने जाते हैं और यह उनके अर्थव्यवस्था का एक महत्वपूर्ण भाग देता है।

नेपाल से जुड़े भारतीय राज्य

नेपाल मुख्य रूप से हिमालय में स्थित है, लेकिन इसमें भारत-गंगा के मैदान के कुछ हिस्से भी शामिल हैं। इसके दक्षिण, पूर्व और पश्चिम में भारत, उत्तर में चीन का तिब्बत स्वायत्त क्षेत्र, पूर्व में सिलीगुड़ी कॉरिडोर और पश्चिम में भूटान है। दुनिया के दस सबसे ऊंचे पहाड़ों में से आठ, माउंट एवरेस्ट सहित, पृथ्वी पर सबसे ऊंचा बिंदु, नेपाल में उपजाऊ मैदानों, सबलपीन जंगली पहाड़ियों और अन्य भौगोलिक विशेषताओं के साथ पाए जाते हैं।

अपनी आधिकारिक भाषा के रूप में नेपाली के साथ, नेपाल एक बहु-जातीय, बहुभाषी, बहु-धार्मिक और बहु-सांस्कृतिक राज्य है। नेपाल का सबसे बड़ा शहर और राजधानी काठमांडू है। बिहार, उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, और उत्तराखंड अपने राज्य कि सीमाएं पडोसी देश के साथ साझा करते हैं। इन सब में बिहार राज्य की 726 किलोमीटर सीमा नेपाल के साथ लगती हैं। वहीँ उत्तर प्रदेश अपने सीमा का 551 किलोमीटर नेपाल के साथ बांटता है।

बिहार, उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल के अलावा बाकि दो राज्य पहाड़ों से घिरे हैं। उत्तराखंड और सिक्किम के पहाड़ों में बसी प्राकृतिक खूबसूरती, पर्यटकों को अपनी और आकर्षित करती हैं। नेपाल से जुड़े राज्यों की सीमाओं की लम्बाई इस तरह है,

  • उत्तर प्रदेश - 551किलोमीटर.
  • उत्तराखंड - 275 किलोमीटर.
  • बिहार - 726 किलोमीटर.
  • सिक्किम - 99 किलोमीटर.
  • पश्चिम बंगाल - 100 किलोमीटर.

Summary:

भारत के कितने राज्य ने नेपाल के साथ सीमा साझा की है?

भारत के 5 राज्य अपनी सीमाएं पडोसी देश नेपाल के साथ बांटते हैं। इन राज्यों में उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, बिहार, उत्तराखंड और सिक्किम शामिल हैं। नेपाल के अलावा भारत के अन्य कई पडोसी देश हैं जिनके साथ वह अपनी सीमाएं बांटता है। इसके पडोसी देश हैं पाकिस्तान, चीन, बांग्लादेश और श्रीलंका। भारत तीन ओर अलग अलग देश हैं और यह विश्व की तीसरी सबसे बड़ी अंतर्राष्ट्रीय सीमा है, रूस और चीन के बाद।

Related Questions:

Comments

write a comment

Follow us for latest updates